महिला अस्पताल के s.n.c.u. वार्ड में एक मासूम की जान जाते-जाते बच गयी।

0
124

भ्रष्टाचार और मरीजों से अवैध बसूली के लिए पहले से बदनाम बदायूँ के जिला महिला अस्पताल के हालात सुधरते नज़र नही आ रहे हैं। कर्मचारियों की लापरवाही से महिला अस्पताल के s.n.c.u. वार्ड में एक मासूम की जान जाते-जाते बच गयी। s.n.c.u. वार्ड में लगे एक वार्मर में नवजात को लिटाने से पहले करेंट आ गया और नर्स को करेंट लगने के कारण बच्चे की जान बच गयी।

जिला महिला अस्पताल में नवजात बच्चों के इलाज के लिए s.n.c.u. वार्ड बना हुआ है, जहाँ पर नवजात शिशुओं का इलाज होता है। अस्पताल में बीमार नवजात शिशु को वार्मर में रखने से पहले जब वहां तैनात नर्स ने वार्मर को चालू किया तो वार्मर में करेंट आ गया, करेंट से नर्स को झटका लगा। इस घटना की सूचना मिलते ही अस्पताल में हड़कम्प मच गया। गनीमत यह रही कि नर्स ने बच्चे को वार्मर में रखकर बाद में वार्मर चालू नही किया वरना बच्चे की जान भी जा सकती थी।

वहीं इस मामले में महिला अस्पताल की cms रेखा रानी का कहना है कि वार्मर नया आया था और उसको चालू करते ही उसमे करेंट आ गया था जिसको तत्काल सही करा लिया गया है।

LEAVE A REPLY