परीक्षा की कॉपी खरीदने को 17 लाख आवंटित

0
155

परिषदीय स्कूलों में परीक्षा 18 मार्च से 23 मार्च तक चलेगी
प्रतापगढ़, हिस। आगामी अट्ठारह मार्च से शुरू हो रही परिषदीय स्कूलों की वार्षिक परीक्षा के मद्देनजर कॉपी खरीदने लिए स्कूलों को 17 लाख रुपये भेजा दिया गया है। कक्षा एक की परीक्षा मौखिक होगी। कक्षा दो से पांच तक प्रत्येक छात्र के हिसाब से साढ़े सात रुपये और कक्षा छह से आठ तक प्रत्येक छात्र के लिए 15 रुपये कॉपी खरीदने को विद्यालय की प्रबंध समिति खाते में भेजा जा रहा है। कक्षा दो से पांच तक के लिए 1 लाख 419 रुपये और कक्षा छह से आठ तक के लिए सात लाख एक हजार 37 रुपये एक दो दिन में खाते में पहुंच जाएगा। यह परीक्षा 18 मार्च से शुरू होकर 23 मार्च तक चलेगी।
परीक्षा प्रथम पाली में सुबह नौ बजे से साढ़े ग्यारह बजे तक और दूसरी पाली में साढ़े बारह बजे से तीन बजे तक होगी।पहले दिन 18 मार्च को प्रथम पाली में कक्षा एक की हिन्दी की मौखिक परीक्षा व कक्षा दो से आठ तक हिन्दी की लिखित परीक्षा होगी। दूसरी पाली में कक्षा एक की संस्कृत व उर्दू की मौखिक परीक्षा, कक्षा दो की हिन्दी की मौखिक परीक्षा, कक्षा तीन से पांच तक की सामाजिक विषय, कक्षा छह से आठ तक की पर्यावरण अध्ययन की लिखित परीक्षा होगी। 20 मार्च को प्रथम पाली में कक्षा एक व दो की अंग्रेजी मौखिक परीक्षा, कक्षा तीन से पांच तक अंग्रेजी व कक्षा छह से आठ तक सामाजिक विषय की लिखित परीक्षा होगी। दूसरी पाली में कक्षा दो की संस्कृत व उर्द की मौखिक परीक्षा, कक्षा तीन से पांच तक संस्कृत व उर्दू, कक्षा छह से आठ तक की शारीरिक शिक्षा की लिखित परीक्षा होगी। 21 मार्च को प्रथम पाली में कक्षा एक में पर्यावरण अध्ययन की मौखिक परीक्षा, कक्षा दो से आठ तक की गणित की लिखित परीक्षा, दूसरी पाली में कक्षा एक व दो की गणित की मौखिक परीक्षा, कक्षा छह से आठ तक की संस्कृत व उर्दू की लिखित परीक्षा होगी। 22 मार्च को प्रथम पाली में कक्षा चार से आठ तक की विज्ञान की लिखित परीक्षा, दूसरी पाली में कक्षा छह से आठ तक की कला व संगीत की लिखित परीक्षा होगी। 23 मार्च को प्रथम पाली में कक्षा छह से आठ तक की अंग्रेजी व दूसरी पाली में कक्षा छह से आठ तक की कृषि व गृह शिल्प की लिखित परीक्षा होगी। बीएसए बीएन सिंह ने बताया कि प्रश्नपत्र उनके द्वारा मुहैया कराया जाएगा। कॉपी के लिए पैसा विद्यालय प्रबंध समिति के खाते में एक दो दिन में पहुंच जाएगा।

LEAVE A REPLY