यूपी STF ने हरदोई में नेपाल से तस्करी कर लाई जा रही करीब 8 करोड़ से ज़्यादा क़ीमत की एक कुंटल 85 किलो चरस बरामद की

0
143

यूपी STF ने हरदोई में नेपाल से तस्करी कर लाई जा रही करीब 8 करोड़ से ज़्यादा क़ीमत की एक कुंटल 85 किलो चरस बरामद की है। STF ने मुख़बिर की सूचना पर पीछा करते हुए संडीला इलाक़े में कोल्ड्रिंग लोड करने आये ट्रक से यह बरामदगी की है। मौक़े से ट्रक को क़ब्ज़े में लेकर चालक और परिचालक पिता पुत्र को STF ने हिरासत में ले कर हरदोई पुलिस के हवाले कर दिया है। जबकि चरस का मुख्य तस्कर संजीव शर्मा STF को चकमा देकर भागने में कामयाब रहा है। पकड़ी गई चरस नेपाल से तस्करी कर महराजगंज के रास्ते भारत में लाई गई थी और इसे कैराना के ज़रिए पश्चमी उत्तरप्रदेश और दिल्ली में सप्लाई किया जाना था। इतने बड़े पैमाने पर चरस बरामदगी के बाद यूपी STF पूरे नेटवर्क का पता लगाने में जुट गई है।

हरदोई के संडीला कोतवाली पुलिस की कस्टडी में खड़े यह चरण सिंह और बबलू आपस में पिता पुत्र हैं। यूपी STF की बरेली यूनिट ने इनका पीछा कर संडीला कोतवाली के कताईं मिल चौकी इलाके में इन्हें दबोचा है। दरअसल यूपी STF को ख़बर मिली थी कि मेरठ का रहने वाला संजीव शर्मा नेपाल से बड़े पैमाने पर चरस तस्करी कर अपने ट्रक UP15 AT 8097 से महराजगंज के रास्ते भारत ला रहा है। ट्रक संडीला इलाक़े में प्लांट से कोल्ड्रिंग लादकर मेरठ ले जाएगा। जहां से यह चरस कैराना के ज़रिए पश्चमी यूपी और दिल्ली में सप्लाई की जाएगी। STF के प्रभारी निरीक्षक अजयपाल सिंह ने अपनी टीम के साथ पीछा कर संडीला के कताईं मिल इलाक़े में जाल बिछाकर ट्रक को पकड़ लिया। पुलिस ने मौक़े से ट्रक चालक चरण सिंह सहचालक उसके पुत्र बबलू को हिरासत में ले लिया। जबकि घेरा बन्दी देख मुख्य तस्कर संजीव शर्मा STF को चकमा देकर फरार होने में कामयाब हो गया। तलाशी के दौरान ट्रक से पैकेट और प्लास्टिक के बोरों में भरी एक कुंटल 85 किलो चरस बरामद हुई। बरामद की गई चरस की अंतर्राष्ट्रीय बाजार में क़ीमत 8 करोड़ रुपये से ज़्यादा बताई जा रही है। पकड़ी गई चरस नेपाल के रास्ते भारत लाई गई थी जिसे नेपाल के रहने वाले अंतर्राष्ट्रीय तस्कर रियाज़ ने महराजगंज में ट्रक में लोड कराई थी। जिसे संजीव शर्मा के ज़रिए कैराना पहुंचाई जानी थी। जहां से साजिद उर्फ भूरा के ज़रिए पश्चमी यूपी और दिल्ली में इस चरस की सप्लाई की जानी थी। STF करोड़ों की चरस बरामदगी के बाद पूरे नेटवर्क के खुलासे में जुट गयी है।

संबाददाता
एसएम आकिल

LEAVE A REPLY